Sudarshan Chakra In Hindi | सुदर्शन चक्र पूरी जानकारी

Sudarshan Chakra In Hindi  :- Sudarshan chakra सबसे घातक और खतरनाक हथियारों में से एक माना जाता है। इसके सामने बड़े से बड़े अस्त्र भी पानी भरते हैं। यदि एक बार इसे छोड़ दिया गया तो ये अपने लक्ष्य को पूरा करके ही वापस आता है।

power-of-sudarshan-chakra-in-hindi
image source – google

यह बात तो सभी जानते हैं कि सुदर्शन चक्र भगवान विष्णु जी के पास है और वे इसे अपनी तर्जनी उंगली पर धारण करते हैं। लेकिन क्या आप यह जानते हैं कि सुदर्शन चक्र को किसने बनाया और यह किस तरह भगवान विष्णु के पास पहुंचा और आखिर यह इतना शक्तिशाली कैसे हैं?

1000 वर्ष की तपस्या के बाद मिला था Sudarshan Chakra 

सुदर्शन चक्र कोई साधारण चक्र नहीं है जिसे धातुओं से बनाया गया हो। इस चक्र की रचना, संरचना और शक्ति अद्भुत है। इसके बारे में आपको अवश्य जानना चाहिए।

power-of-sudarshan-chakra-in-hindi
image source – google

Sudarshan Chakra In Hindi : विष्णु भगवान ने 1000 वर्ष की कठोर तपस्या के बाद भगवान महादेव से प्राप्त किया था। इस बात से ही आप समझ गए होंगे कि जिसे प्राप्त करने के लिए भगवान विष्णु ने इतनी लंबी और कठोर तपस्या की हो और उसे स्वयं महादेव ने दिया हो तो वह अस्त्र कितना घातक होगा।

कई देवी-देवताओं की शक्ति है सम्मिलित

लेकिन अभी यह अंत नहीं है अभी तो यह शुरुआत है। भगवान महादेव से श्री हरि विष्णु भगवान ने सुदर्शन चक्र प्राप्त किया। जिसके बाद इस चक्र को विष्णु भगवान ने अग्नि देव को दिया और अग्नि देव में वरुण देव को। इसी तरह वरुण देव ने परशुराम जी को और इन्होंने श्री कृष्ण भगवान को Sudarshan chakra दीया।

power-of-sudarshan-chakra-in-hindi
image source – google

सुदर्शन चक्र में कई देवता, राशियां, तीनों ऋतुएं, सोम, प्रजापति, इंद्र देव, महाबली हनुमान जी का बल, चैत्र से लेकर फाल्गुन तक के 12 महीने प्रतिष्ठित किये गए। इसके बाद ये चक्र बना सुदर्शन चक्र। जो देखने में तो सुंदर पर दुश्मनों के लिए काल के समान है।

कहाँ गया Sudarshan Chakra

sudarshan-chakra-in-hindi
Image source – google

एक कथा के अनुसार जब श्री कृष्ण इस धरती को छोड़कर जाने लगे तो यह चक्र धरती में समा गया और जब कलयुग के अंत में कल्कि अवतार श्री हरी लेंगे तो यह चक्र एक बार फिर से धरती से निकलकर बाहर आएगा और इसे कल्कि जी दुष्टों का नाश करने के लिए उपयोग करेंगे।

Read Also:

1.Image optimize करने के सही तरीके-Step by Step

2. Sitemap kya hai-what is sitemap in hindi

 

Akki

Hello friends my name is Akash Kumar. I am the founder of this blog. I am interested in reading and teaching people about technology and blogging. My objective is that I can provide you the best information. So that you too have complete knowledge about new technology and blogging.If you have any questions in your mind, you can ask us without hesitation. We will try to answer your question as soon as possible. ================================== नमस्कार दोस्तों मेरा नाम आकाश कुमार है। मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ। मुझे प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पढ़ना और लोगों को सिखाने में रुचि है। मेरा मकसद है की मै आपको अच्छी से अच्छी जानकारी उपलब्ध करा सकूँ। जिससे आपको भी नयी प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पूरी जानकारी हो। यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमसे बिना संकोच करे पूछ सकते है। हम जल्द से जल्द आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *