Signal App Review In Hindi | WhatsApp Vs Signal App

Signal App Review In Hindi : – Signal App इन दिनों लोगों के बीच में चर्चा का विषय बना हुआ है। अब लोग WhatsApp से ज्यादा सिग्नल एप्लीकेशन का उपयोग कर रहे हैं और दूसरे लोगों को भी इसे उपयोग करने की सलाह दे रहे हैं। इनमें खासकर वे लोग हैं जो‌ सिक्योरिटी, बिजनेसमैन है या फिर जो अपनी प्राइवेसी से किसी भी तरह का समझौता नहीं करना चाहते हैं।

signal app review in Hindi
                                                           Signal App Review In Hindi

कैसे हुई शुरुआत (Signal App Review In Hindi )

हाल ही में‌ मार्क जुकरबर्ग की अधिकार वाली कंपनी WhatsApp ने नई privacy and policy का ऐलान किया। जिसमें कहा गया है कि 8 फरवरी 2020 तक आपको हमारी नई प्राइवेसी और पॉलिसी माननी होगी। यदि आप ऐसा नहीं करते हैं तो कुछ समय बाद आपका व्हाट्सएप बंद कर दिया जाएगा या आप चाहे तो खुद uninstall कर सकते हैं।

यदि आप WhatsApp की शर्त को मानते हैं तो व्हाट्सएप के पास अधिकार होगा कि वह आपका डाटा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Facebook के साथ साझा कर सके। जैसे DP, status, contact number, location,IP ADDRESS, WhatsApp payment ki detail आदि।

इस बीच spaceX व Tesla के मालिक Elon Mask ने एक ट्वीट किया। जिसने उन्होंने लिखा कि Use Signal App. बस स्टेट के बाद से ही लोगों के बीच में सिगनल एप को लेकर चर्चा होने लगी और वे whatsapp से इस ऐप पर आने लगे।

क्या है Signal App?

1. Signal App व्हाट्सएप की ही तरह एक messenger है। लेकिन कई चीजों में यह व्हाट्सएप से बहुत बेहतर है। खासकर privacy and security के मामले में। इसलिए लोग अब signal App को इंस्टॉल कर रहे हैं।

2. Signal App एक अमेरिकी कंपनी है। जिसके सीईओ माक्सी मर्लिनस्पाइक है।

3. इस ऐप का उपयोग भी आप‌ व्हाट्सएप की तरह ही कर सकते हैं।

4. इसमें आप photo video, Gif, File, Location, Contact आदि भेज सकते हैं।

5. व्हाट्सएप की तरह इसमें भी आप ग्रुप बना सकते हैं लेकिन इसमें एक ग्रुप में सिर्फ डेढ़ सौ लोगों को ही जोड़ा जा सकता है।

6. इसके साथ ही एक इसमें स्पेशल ऑप्शन है जिसमें आप अपना कोई भी नोट लिखे कर सुरक्षित कर सकते हैं।

7. Signal App को जो बात खास बनाती है वह यह है कि इसमें मेटा डाटा end to end encrypted होता है।

8. यह एप आपके किसी भी प्रकार का डाटा स्टोर नहीं करता है। जिसकी वजह से ये विश्वासनीय है।

9. Signal App अपने यूजर्स की privacy पर विशेष ध्यान देता है। इसकी टैगलाइन भी है say hello to privacy.

Signal App का उपयोग कैसे करें?

• जैसा कि हमने पहले आपको बताया कि यह ऐप WhatsApp Messenger की तरह ही है। इसमें भी आप वे सब चीजें कर सकते हैं जो आप व्हाट्सएप पर करते आए हैं।

• सबसे पहले play store पर जाकर signal App search करें और install कर लें।

• अब अपना मोबाइल नंबर लिखें और आपके नंबर पर आए OTP को Fill करें। बस आपका अकाउंट signal App पर बन गया।

• अब आपके कांटेक्ट में जो भी लोग हैं उनके नाम या फिर मोबाइल नंबर से उन्हें सर्च करें और मैसेज करें।

Read Also: ROM kya hai-Read Only Memory काम कैसे करती है?

Conclusion

इस तरह आप signal App का उपयोग कर सकते हैं और अपने डेटा को सुरक्षित रख सकते हैं। यदि इसके बाद भी आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हम से कमेंट कर कर पूछ सकते हैं।

Akki

Hello friends my name is Akash Kumar. I am the founder of this blog. I am interested in reading and teaching people about technology and blogging. My objective is that I can provide you the best information. So that you too have complete knowledge about new technology and blogging.If you have any questions in your mind, you can ask us without hesitation. We will try to answer your question as soon as possible. ================================== नमस्कार दोस्तों मेरा नाम आकाश कुमार है। मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ। मुझे प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पढ़ना और लोगों को सिखाने में रुचि है। मेरा मकसद है की मै आपको अच्छी से अच्छी जानकारी उपलब्ध करा सकूँ। जिससे आपको भी नयी प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पूरी जानकारी हो। यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमसे बिना संकोच करे पूछ सकते है। हम जल्द से जल्द आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *