Internet Kam Kaise Karta Hai | इंटरनेट काम कैसे करता है

Internet kam kaise karta hai ? यह सवाल आपके दिमाग में कभी कभी आता होगा या internet kya hai, इसका मालिक कौन है और कैसे इसके जरिए हम कुछ भी खोज पाते हैं। तो इस पोस्ट में आज हम बताएंगे कि इंटरनेट काम कैसे करता है और आप किस तरह इसका उपयोग इतनी आसानी से कर पाते हैं।

इंसान बहुत एडवांस हो चुका है। आज हम दुनिया के एक कोने से दूसरे कोने मैं बैठे व्यक्ति से आसानी से बात कर सकते हैं। इसके साथ ही दुनिया में घट रही घटनाओं के बारे में भी हमें तुरंत जानकारी मिल जाती है। यह सब internet की वजह से ही संभव हो पाया है।

 

Internet-kam-kaise-karta-hai
Internet Kam Kaise Karta Hai

हम बिना खाना और पानी के एक-दो घंटे या फिर 1 दिन भी रह सकते हैं। लेकिन बिना इंटरनेट के 10 मिनट भी रहना बहुत मुश्किल है। क्योंकि आजकल सारे काम ऑनलाइन और आसानी से हो जाते हैं। एक तरह से हम इसके आदि हो चुके हैं। तो आइए जानते हैं आखिर यह internet kam kaise karta hai और या आपके घर तक किस तरह पहुंचता है।

Internet की शुरुआत कब हुई?

इंटरनेट की शुरुआत 1969 में अमेरिकी सुरक्षा विभाग डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस के द्वारा किया गया था। जिसमें 4 कंप्यूटरों को एक दूसरे के साथ जोड़ा गया था। जिससे एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर में डाटा का आदान प्रदान किया जा सके।

वहीं भारत में इंटरनेट की शुरुआत 15 अगस्त 1995 को कोलकाता में हुई थी। इसकी शुरुआत बीएसएनएल ने की थी और 1998 में इसे प्राइवेट ऑपरेटर द्वारा उपलब्ध कराने की अनुमति दे दी थी।

Internet Kam Kaise Karta Hai?

Internet को आपके घर तक दो अलग-अलग कंपनियां लेकर आती हैं। पहली है टियर वन, दूसरी टियर टू।

टियर वन वे कंपनी होती है जिन्होंने पूरी दुनिया में समुद्र के अंदर अपनी केबल को बिछा रखा है। आसान भाषा में कहें तो ये कंपनियां एक देश से दूसरे देश को केबल के जरिए जोड़ती है। इन केबल को optical fibre cable कहा जाता है। क्योंकि इन्हें समुद्र के अंदर बिछाया जाता है और काफी देखरेख करनी पड़ती है इसलिए इनकी कीमत बहुत ज्यादा होती है।

optical fibre cable
Optical Fibre Cable

टियर वन कंपनी इन cable को भारत के 4 राज्यों तक लेकर आई हैं। जिनके नाम है मुंबई, केरल, तमिल नाडु, आंध्र प्रदेश। यहां से टियर वन कंपनी का काम खत्म और टियर टू कंपनी का काम शुरू होता है। ये कम्पनियां है Jio, Airtel, VI आदि।

अब टियर टू कंपनियों पूरे भारत में cable बिछाती हैं और टावर से कनेक्ट करतीं हैं। ये टावर जगह-जगह लगे होते हैं। आपका इंटरनेट इसी टावर की वजह से चलता है।

क्या Satellite से इंटरनेट चलता है?

Internet मात्र 10% ही satellite के जरिए चलता है। इसका उपयोग भी आम लोग नहीं बल्कि सीक्रेट एजेंसीया करती हैं। शुरुआत में इंटरनेट सेटेलाइट के माध्यम से चलता था लेकिन इसमें काफी समय लगता था। इस समस्या को हल करने के लिए optical fibre cable का उपयोग किया गया।

Kya hai optical fibre cable

यह केबल बहुत लचीली होती है और इसमें कई परतें होती है। पहली परत को outer jacket दूसरी strength member, coating, cladding, core होती है।

Kya hai optical fibre cable
Kya hai optical fibre cable

Core में मुख्य वायर होते हैं ये वायर बाल से पतले होते हैं। डाटा का स्थानांतरण ऐसी के माध्यम से बहुत तेज गति से होता है। आज पूरी दुनिया में 90% internet इन्हें वायर की वजह से चलता है।

Internet पर आपको जानकारी कैसे मिलती है?

इंटरनेट के बिना हमारा फोन का उपयोग सिर्फ इतना रह जाता है कि उससे आप कॉल कर सकते हैं या कॉल आ सकती है या फिर आप टेक्स्ट मैसेज भेज सकते हैं। लेकिन इंटरनेट होता है तो आप पूरी दुनिया की खबरें, कोई भी फोटो, वीडियो आदि बड़ी आसानी से देख सकते हैं। तो आइए जानते हैं आखिरी असंभव कैसे होता है।

जब आप search engine में कुछ भी सर्च करते हैं तो उसकी जानकारी पहले इंटरनेट प्रोवाइडर के पास जाती है। अगर आपने भारत की ही किसी वेबसाइट को सर्च किया है तो भारत में स्थित सरवर से वह जानकारी खोज कर इंटरनेट प्रोवाइडर के पास आती है और वह फिर आपको भेजता है।

यदि आपने कोई ऐसी वेबसाइट सर्च की है जिसका सरवर भारत के बाहर है तो यह जानकारी इंटरनेट प्रोवाइडर से ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से उस देश के सरवर में जाती है और फिर केबल के माध्यम से होते हुए इंटरनेट प्रोवाइडर और फिर आपके पास आती है।

Conclusion

तो अब आप समझ गए होंगे किInternet Kam Kaise Karta Hai और यह किस तरह चलता है। यदि इसके बाद भी आपके मन में कोई प्रश्न हो तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं।

यह भी पढ़ें:

Akki

Hello friends my name is Akash Kumar. I am the founder of this blog. I am interested in reading and teaching people about technology and blogging. My objective is that I can provide you the best information. So that you too have complete knowledge about new technology and blogging.If you have any questions in your mind, you can ask us without hesitation. We will try to answer your question as soon as possible. ================================== नमस्कार दोस्तों मेरा नाम आकाश कुमार है। मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ। मुझे प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पढ़ना और लोगों को सिखाने में रुचि है। मेरा मकसद है की मै आपको अच्छी से अच्छी जानकारी उपलब्ध करा सकूँ। जिससे आपको भी नयी प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पूरी जानकारी हो। यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमसे बिना संकोच करे पूछ सकते है। हम जल्द से जल्द आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *