SERP का फुल फॉर्म और फुल जानकारी

आज हम इस पोस्ट आपको बताएंगे कि SERP क्या है और कैसे काम करता है। SERP का फुल फॉर्म है (search engine result page). जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि सर्च इंजन में जो कीवर्ड सर्च किया है उसके कई परिणाम पेज पर हमें दिखने लगते हैं।

आसान भाषा में कहें तो जब आप सर्च इंजन (Google) में अपने किसी प्रश्न का उत्तर खोजने के लिए keyword लिखकर सर्च करते हैं तो आपके सामने एक पेज को कराता है जिसमें आपके प्रश्न से जुड़े हुए कई सारे दिखाई देते हैं। इसी पेज को SERP कहते हैं।

SERP का महत्त्व

सर्च इंजन रिजल्ट पेज का बहुत महत्व है। यदि आप एक ब्लागर है या आपकी कोई website है तो आप यह बात अच्छी तरह से जानते होंगे। Google के Top Pages में रैंक करने के लिए सभी वेबसाइट में काफी कंपटीशन होता है। खासकर गूगल के पहले Page में अपनी वेबसाइट को Rank कराने के लिए।

सर्च इंजन के प्रथम पेज में रैंक करने से organic traffic सीधे आपकी वेबसाइट पर आता है। जिससे आपको कई सारे फायदे होते हैं इसीलिए First SERP में रैंक करने के लिए दुनिया भर के ब्लॉगर और उनकी वेबसाइट में कंपटीशन होता है।

तीन प्रकार के रिजल्ट SERP में दिखाए जाते हैं

1. वे Page जिन्हें Google Spider द्वारा इंडेक्स किया गया हो।
2. दूसरे वे पेज होते हैं जिन्हें किसी व्यक्ति द्वारा सर्च इंजन में index किया गया हो।
3. तीसरे वे web page होते हैं जिन्हें सर्च इंजन को पैसे देकर दिखाने को कहा गया हो।

कैसे काम करता है SERP

जब आप गूगल पर कोई कीवर्ड सर्च करते हैं तो आपके सामने एक पेज ओपन होकर आता है। जिसमें लगभग 10 Results दिखाई देते हैं। जब आप पेज को स्क्रोल करक नीचे जाएंगे तो आपको वहां number of pages दिखाई देंगे। इसी तरह आप जैसे जैसे next page पर जाएंगे तो आपको आपके प्रश्न से जुड़े हुए कई उत्तर मिलेंगे।

किसी भी सर्च इंजन की पहली प्राथमिकता यह होती है कि वह अपने user को कम समय में अच्छी जानकारी उपलब्ध करा सके। इसीलिए गूगल सर्च इंजन अपने top page में उन्हीं वेबसाइट को रखते हैं जो अच्छी जानकारी देती हैं।

SERP की लिस्ट कैसे होती है तैयार?

Search Engine किसी भी कीवर्ड से जुड़ी हुई जानकारी को खोजने के लिए अपने spider या Bot का उपयोग करते हैं। ये spider इंटरनेट पर उपलब्ध web pages को रीड करते हैं और सर्च इंजन को उसके बारे में बताते हैं। जिसके बाद उस कीवर्ल्ड से जुड़े हुए जितने भी रिजल्ट है उनको सर्च इंजन अपने डेटाबेस में save कर लेता है। इस पूरी प्रक्रिया को crawling कहते हैं।

guest post क्या है और कैसे करते है?

Crawler वेब पेज में स्थित वर्ल्डस को रीड करता है। खास तौर पर सर्च इंजन में सर्च किए गए keyword को read करता है। इसमें क्रॉलर सर पेजेस को लीड करते समय देखता है कि किस पेज में कीबोर्ड heading, meta description, subheading और paragraph में वो कीवर्ड है या नहीं और किस पोजीशन में है। इतना सब देखने के बाद सर्च इंजन उन सभी वेबपेजेस की लिस्ट बनाता है और SERP में दिखाता है।

Note:- heading, meta description, subheading और paragraph में Keyword का अच्छी तरह से उपयोग करने के तरीके को SEO कहते हैं।

SERP Features

अब हम आपको ऐसी आरती के कुछ फीचर्स के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। जने जानना आपके लिए आवश्यक है।

Adwords (Bottom) Knowledge Card  Related Questions
 Adwords (Top)  Knowledge Panel  Reviews
 Featured Snippet   Local Pack  Shopping Results
Image Pack   Local Teaser Pack  Site Links
In-Depth Article  News Box Tweet /  Video

Akki

Hello friends my name is Akash Kumar. I am the founder of this blog. I am interested in reading and teaching people about technology and blogging. My objective is that I can provide you the best information. So that you too have complete knowledge about new technology and blogging.If you have any questions in your mind, you can ask us without hesitation. We will try to answer your question as soon as possible. ================================== नमस्कार दोस्तों मेरा नाम आकाश कुमार है। मै इस ब्लॉग का फाउंडर हूँ। मुझे प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पढ़ना और लोगों को सिखाने में रुचि है। मेरा मकसद है की मै आपको अच्छी से अच्छी जानकारी उपलब्ध करा सकूँ। जिससे आपको भी नयी प्रौद्योगिकी और ब्लॉगिंग के बारे में पूरी जानकारी हो। यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमसे बिना संकोच करे पूछ सकते है। हम जल्द से जल्द आपके सवाल का जवाब देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *